Principal Message

    प्रिय छात्रों,
                      कमलाकांत शुक्ला इंस्टीट्यूट, मुख्य रूप से छात्रों को अपने रचनात्मक विचारों को संचरित करने और विभिन्न पहलुओं पर अपने विचारों को अभिव्यक्ति देने के लिए एक आदर्श मंच प्रदान कर विद्यार्थीयों की क्षमता का पोषण करने में 10 वर्षो से अग्रणी भूमिका निभा रहा है।
                      शिक्षा का उदेश्य औद्योगिक उन्नति के साथ-साथ मानवीय मूल्यों का विकास करना है। प्रत्यके छात्र को अपनी क्षमताओं और रूचि के क्षेत्र का पता लगाने का अवसर प्रदान करने पर भी ध्यान केंद्रित किया जाता है जैसे पाठ्य चर्या, सह-पाठय चर्या। हमारा लक्ष्य सॉफ्ट स्किल्स विकसित करना है जो उन्हें समाज के विभिन्न अवसरों और चुनौतियों का प्रबंधन और नेतृत्व करने के लिए एक अतिरिक्त वृद्धि के साथ पूर्ण करेगा।
                                                                           वर्तमान समय में सूचना और संचार से संबंधित प्रौद्योगिकियों में निरंतर वृद्धि ने मानव जीवन के विभिन्न पहलुओं में उल्लेखनीय परिवर्तन लाए है और एक ज्ञान आधारित समाज का निर्माण किया है। इस संदर्भ में विभिन्न क्षेत्रों में नवीनतम तकनीकी प्रगति से परिचित होना समय की अत्यधिक आवश्यकता बन गई है। इस हेतु उत्कृष्ट शैक्षणिक सामग्री प्रदान करने और व्यावहारिक अनुभवों के माध्यम से कौशल के विकास के अतिरिक्त, छात्रों को वेबिनार, सेमिनार, वर्कशॉप के माध्यम से पारस्परिक कौशल विकसित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। मुझे विश्वास है कि यह इंस्टीट्यूट गुणवत्तापूर्ण छात्रों के व्यक्तित्व को विकसित करने में मदद करेगा, जो बदलते परिवेश में समाज और राष्ट्र के लिए भी एक अमूल्य नीधि साबित होंगें।

 

 

 

डॉ. वंदना चौहान

प्राचार्य 
कमलाकांत शुक्ला इंस्टिट्यूट भाटापारा (छ.ग .)